Ghar Tak Fibre Schme ~प्रधानमंत्री घर तक फाइबर योजना हिंदी में

8

Ghar Tak Fibre Schme: गाँव के विकास और डिजिटल अभियान के तहत देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र दामोदर मोदी के द्वारा बिहार राज्य में ‘घर तक फाइबर योजना ‘का शुभारंभ किया गया।प्रत्येक गाँव को इंटरनेट की सुविधा से जोड़ा जायेगा और बेहतर स्पीड के लिए ब्रॉडबैंड से जोड़ा जायेगा। आज के आधुनिक युग में इंटरनेट का प्रयोग बहुतायत होता है व् लोगो द्वारा इंटरनेट पर निर्भरता दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। देश में शहर की अपेक्षा गाँव में इंटरनेट की सुविधा का अभाव है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य गाँव को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराना है ,जिससे किसी भी मिलने वाले लाभ से गाँव वाले अछूते न रहे।

इस लेख के माध्यम से आइये जानते है कि घर तक फाइबर योजना क्या है, उद्देश्य क्या है ,किन लोगो को इसका लाभ मिलेगा आदि की जानकारी आप को प्राप्त होगी।

Apna khata Bihar, Check Bihar Land Record Online

Ghar Tak Fibre Schme

Ghar Tak Fibre Schme क्या है ?

देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र दामोदर मोदी ने 21 सितम्बर 2020 को घर तक फाइबर योजना का उद्घाटन किया गया।जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य के प्रत्येक गाँव तक हाई स्पीड वाली फाइबर इंटरनेट की सुविधा पहुंच सके।आज के युग में गाँव के उत्थान व् विकास के लिए इंटरनेट की सुविधा होना अति आवश्यक है।सरकार द्वारा चलाये गए अभियान व् योजनाओ का सम्पूर्ण लाभ ,जानकारी गाँव वालो तक समय से पहुंचे इसके लिए ग्रामीण क्षेत्र का इंटरनेट से कनेक्शन होना जरूरी है।

PM Ghar Tak Fibre Schme घर तक फाइबर योजना से जुड़ी कुछ बिंदु-

  • प्रधानमंत्री ने 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने भाषण में कहा कि वर्ष 2014 तक केवल 60 से 70 गाँव में ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट की सुविधा थी, लेकिन पिछले 5 वर्षो में 1.5 लाख गाँव को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट से जोड़ा जा चुका है।भविष्य में देश के सभी गाँव को डिजिटल अभियान के तहत इंटरनेट से जोड़ा जायेगा।
  • घर तक फाइबर योजना सूचना एवं प्रौद्योगिक मंत्रालय द्वारा संचालन व् लागू किया जायेगा।
  • बिहार के 45945 गाँवो को हाई स्पीड इंटरनेट से 31 मार्च 2021 तक जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • बिहार के प्रत्येक गाँव में कम से कम पांच फाइबर कनेक्शन व् एक वाईफाई हॉटस्पॉट उपलब्ध कराया जायेगा।
  • प्रत्येक गाँव को इंटरनेट का कनेक्शन (ब्राडबैंड) CSC Centre के माध्यम से दिया जायेगा।

Ghar Tak Fibre Schme in Bihar का विवरण

योजना का नामGhar Tak Fibre Schme
शुभारम्भ21 सितम्बर 2020
उद्घाटनप्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र दामोदर मोदी के द्वारा
विभागइलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय
योजना की शुरुआत बिहार राज्य से

PM Ghar Tak Fibre Schme का मुख्य उद्देश्य

देश के आधुनिक विकास में गाँव की भागीदारी सुनिश्चित करना तथा गाँव के विकास के लिए इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराना ही इस योजना का प्रमुख उद्देश्य है। गाँव में इंटरनेट के अभाव के कारण समय से योजनाओ की न तो जानकारी मिल पाती है और न ही उसका लाभ मिल पाता है। प्रधानमंत्री द्वारा चलाया गया डिजिटल अभियान सफल तभी होगा जब प्रत्येक गाँव के घर तक फाइबर कनेक्शन हो।

Bihar Fibre Schme से लाभ

  • गाँव को इंटरनेट की सुविधा मिलने के साथ गाँव का विकास भी सुनिश्चित हो सकेगा।
  • इस योजना के माध्यम से बिहार के मूल निवासियों को ई-एजुकेशन, ई-एग्रीकल्चर, टेली-मेडिसिन, टेली-लॉ और अन्य सामाजिक सुरक्षा से जुड़ी योजनाओं का लाभ मिलना सुनिश्चित हो सकेगा।
  • गांव में स्थानीय रोजगार सृजन में मदद मिलेगी,जिससे नौकरी के अवसर बढ़ेंगे।
  • गांव के लोगों की शिक्षा का स्तर बढ़ेगा व् उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद मिलेगी।
  • सरकार द्वारा जारी योजनाओं की जानकारी व् लाभ त्वरित मिल सकेंगे।

Ghar Tak Fibre Schme in Bihar के महत्वपूर्ण तथ्य

  • Fiber Schme की शुरुआत अभी केवल बिहार राज्य के गाँव में किया गया है,परीक्षण के उपरान्त देश के सभी राज्यो में शुरू किया जायेगा।
  • बिहार के 45945 गाँवो को हाई स्पीड इंटरनेट से 31 मार्च 2021 तक जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • TRAI की रिपोर्ट के अनुसार- बिहार की आबादी में इंटरनेट कनेक्टिविटी केवल 30.35% है, जो भारत की 55% आबादी से बहुत कम है।
  • बिहार के ग्रामीण क्षेत्र में केवल 22.61% लोगों के पास इंटरनेट कनेक्शन है।
  • रिपोर्ट के अनुसार,बिहार के शहरी क्षेत्र में 73.26% लोगो द्वारा इंटरनेट का प्रयोग किया जाता है जो कि अन्य राज्यों की तुलना में बहुत कम है।इसलिए की फाइबर योजन की शुरुआत बिहार से किया जा रहा है।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले 1000 दिनों में देश के प्रत्येक गांव में ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट की सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।

CSC Centre द्वारा Internet Connectivity

  • CSC Centre के माध्यम से प्रत्येक गाँव को इंटरनेट का कनेक्शन (ब्राडबैंड) उपलब्ध कराया जायेगा।
  • जिन गांवों में इंटनेट का कनेक्शन(फाइबर ) लग चुका है , उन गाँव को दूसरे गाँव में फाइबर केबल द्वारा कनेक्ट करेंगे।
  • FTTH कनेक्टिविटी से कम से कम 45000 से अधिक गाँव व् 8900 पंचायतो को जोड़ा जायेगा।
  • PM Ghar Tak Fibre Schme को 21 सितम्बर 2020 से बिहार के गाँव में शुरू किया गया और सरकार ने 100 दिनों में कार्य पूरा करने का लक्ष्य दिया गया है।

FAQ

Ghar Tak Fibre Schme किस राज्य में शुरू किया गया है ?

बिहार राज्य में सर्वप्रथम इस योजना का शुभारम्भ हुआ था।

घर तक फाइबर योजना क्या है ?

देश के हर गाँव में इंटरनेट का कनेक्शन उपलब्ध कराना।

Ghar Tak Fibre Schme का संचालन किस मंत्रालय के पास है ?

सूचना एवं प्रौद्योगिक मंत्रालय

घर तक फाइबर योजना में इंटरनेट कनेक्टिविटी किसके द्वारा मिलेगा ?

CSC Centre द्वारा

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.