[Update]Ayushman Bharat Yojana – प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY)

0

Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana | Ayushman Bharat Yojana How to apply

Ayushman Bharat Yojana पूरे देश में शुरु हो चुकी है इस योजना के अन्तर्गत सभी पात्र परिवारों को 5 लाख रुपये तक का इलाज प्रतिवर्ष देती है। दोस्तो आज हम बात करेंगे कि इस योजना के अन्तर्गत किन किन लोगों को इसका लाभ मिलेगा और इसके अन्तर्गत किन किन बीमारियों का लाभ मिलेगा एवं Ayushman Bharat Yojana Card कहां बनेगा तथा परिवार के कितने सदस्य का बनेगा या किसी सदस्य का नाम कैसे जुड़वा सकते है। तो इस योजना के बारें पूरी जानकारी के लिए इस लेख को ध्यानपूर्वाक पढ़ें

Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY)

दोस्तों  PMJAY या Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने,अमेरिका की योजना Obama Care के तर्ज पर शुरु किया गया है। जिसका लक्ष्य गरीब और स्वास्थ्य सुविधा से वंचित परिवारों  को विश्वस्तरीय हेल्थकेयर सुविधा देना है।इस योजना के द्वारा आप किसी भी प्राईवेट या सरकारी अस्पताल में अपना इलाज कराने के लिए योग्य हो जाते है।

Ayushman-Bharat-Pradhan-Mantri-Jan-Arogya-Yojana
Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana

Latest Update on PMJAY Scheme

आयुष्मान सीएपीएफ स्वास्थ्य योजना

भारत सरकार ने असम में केन्द्रीय अर्धसैनिक बल के जवान के लिए आयुष्मान स्वास्थ्य सेवा योजना (Ayushman CAPF Healthcare Scheme) शुरु की हैं।जिसके तहत भारत के ग्रहमंत्री NSG के अलावा CRPF, BSF, CISF, ITBP and SSB सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के प्रमुखों को एक आयुष्मान हेल्थ कार्ड मिलेगा।

आयुष्मान सीएपीएफ स्वास्थ्य योजना को 23 जनवरी 2021 को गुवाहाटी में गृह मंत्री द्वारा शुरू किया गया। जिसके अंतर्गत लाभार्थियों को मिलने वाले लाभ के बारे में बताया गया।

PMJAY Scheme से होने वाले लाभ

PMJAY योजना को शुरु करने पीछे यह उद्देश्य है कि देश के लगभग 50 करोड़ नागरिकों को स्वास्थ्य लाभ के अन्तर्गत ५ लाख रुपये प्रतिवर्ष तक का कवरेज प्रदान प्रदान किया जाय। इसमें जो भी खर्च शामिल है वे इस प्रकार है जैसे जांच से लेकर,दवाएं,अस्पताल में भर्ती होने दौरान होने वाले सभी खर्च शामिल है।

Ayushman Bharat Yojana  योजना भारत के गरीब परिवारों के लिए एक गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराती है। इससे मिलने वाले कई लाभ है जो इस प्रकार है-

  • इसके द्वारा लाभार्थी को अस्पताल में किसी भी तरह के खर्चे से बचाता है
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों को एक कैशलेस सुविधा प्रदान की जाती है
  • प्री-हॉस्पिटलाइज़ेशन और पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन अवधि के दौरान लाभार्थी के अस्पताल आने जाने का सारा खर्च को भी कवर करता है।
  • इस योजना के तहत भीतर डे-केयर खर्च को कवर करता है।

Ayushman Bharat Hospital List

Ayushman Bharat Yojana के रोगों की सूची

Ayushman Bharat Yojana के अंतर्गत जिन बीमारियों को शामिल किया गया है उन सभी बीमारियों के लिए सरकार 5 लाख रुपये तक की छूट देती है जिसके अन्तर्गत डाक्टर का खर्चा,आने जाने का खर्च,क्रतिम अंग के खर्च,दवा का खर्च आदि सभी लाभ शामिल है। उनकी सूची में करीब 1350 बीमारियां हैं जो कि इस प्रकार है-

पाचन क्रिया से संबन्धित रोग

Dyspepsia भूख न लगना
Anorexia भोजन करने की इच्छा न होना
Constipation पेचिस
Flatulence 
Diarrhoea उल्टी दस्त
Sprue 
Dysentery पेचिस
Gas Troubleपेट मे गैस बनना
Colic Pain
Stomatits मुह के छाले
Piles बवासीर
Jaundice पीलिया

नेत्ररोग से संबन्धित बीमारी

Foreign Body in Eye
Conjunctivitis आंखो का लाल होना
Blepharitis 
Stye 
Trachoma 

श्वसनतंत्र से संबन्धित बीमारी

  • Laryngitis – स्वरयंत्र की शोथ (सुजन)
  • Cough – खांसी
  • Cold [ Coryza] – जुखाम (सर्दी)
  • Pneumonia – न्योमोनिया (फेफड़े की शोथ)
  • Pleurisy – प्लूरिसी (पसली का दर्द)
  • Asthma – अस्थमा (दमा)

कान से संबन्धित बीमारिया

  • कर्णशूल (कान का दर्द)
  • कर्णस्त्राव (कान का बहना)
  • कान का मैल
  • तीव्र मध्यकर्ण प्रदाह
  • कान की पुरानी शोथ

मुख रोग (Mouth Disease)

  • Stomatitis – मुख में सूजन व छाले
  • Uvula – यूवला, गल शुण्डिका, काकलक का गिरना
  • Pharyngitis – फैरिंजाइटिस, कंठशोथ, गले का दर्द
  • Tonsillitis – गलतुण्डिका शोथ
  • Phyorrhoea (पायोरिया) – मसूडो में पीप पड़ जाना
  • Laryngitis (लैरिंगजाइ‍टिस) – स्वर यंत्र शोथ
  • Hoarsness – स्वर मंग, आवाज बैठ जाना
  • Toothache (टूथ एच) – दाँत का दर्द
  • Scurvy (स्कर्वी) – मसूडो से रक्त आना
  • Quinsy (क्विन्सी) – गलें में फोडा हो जाना
  • Acute Glossitis (एक्यूट ग्लोसाइटिस) – जीभ की नवीन शोथ

सभी प्रकार के ज्वर(Fever)

  • Typhoid Fever bmvmn – टाइफाटड फीव1र
  • Malaria – मलेरिया बुखार
  • Puerperal Fever (प्यूरपेरल फीवर) – प्रस्तुत ज्वर
  • Influenza Fever – एन्फ्लुएन्जा ज्वर
  • Viral Fever – वायरल फीवर
  • Ratbite Fever – रैटबाइट फीवर (चूहा काटे का ज्वर)
  • Scarlet Fever – स्कारलेट फीवर

त्वचा से संबन्धित रोग

  • Leprosy – लेप्रोसी – कुष्ठ रोग (कोढ़)
  • Small Pox – स्माल पाक्स – चेचक, शीतला
  • Measles – मीजल्स – खसरा, छोटी माता
  • Erythema – एरीथेमा – चर्म का बहुत लाल हो जाना
  • Urticaria – अर्टिकेरिया – शीतपित, पित्ती उछलना
  • Ring Worm – रिंगवर्म – दाद, दादू
  • Prickly Heat – प्रिक्लीहाट – गर्मी के दाने
  • Acne – कील मुहासे
  • Eczema – एक्जिमा – पाया, छाजन
  • Pruritis – प्रूराईटिस – सूखी खूजली
  • Itch – Scabies – स्केबीज – छूतवाली खूजली
  • Psoriasis – सोरायसिस -चम्बल
  • Leucoderma – ल्यूकोडर्मा – सफेद दाग, सफेद कोढ
  • Ulcers Wounds – अलसर वाऊण्डस – घाव, जख्म, व्रण
  • Varicose Ulcers – वैरिकोस अल्सर – पिंडली की शिराओं का फूल जाना और उनमें घाव हो जाना
  • Carbuncle कारबंकल – प्रमेह पीडिका, पृष्णव्रण, राजफोडा
  • Boils (बायलस), Furunculous – फुरन्कुलोसिस – फोडा, फुन्सी, दुम्बल, बालतोड
  • Lupus Vulgaris – ल्यूपस वरगेरिस – लाल खुरदाने दाने निकलना
  • Burns and Scalds – बर्न एण्ड स्केलडस – आग से जलना
  • Corns – गटटे्, कोर्न्स, आटन, गोरखूल
  • Allergic Reactions – एलर्जी रियेक्शन – एलर्जी विकार और कष्ट

यौन समस्याओं से संबन्धित रोग

  • A. I. D. S. [HIV] – एडस (एच . आई. वी.)
  • Gonorrhea – गोनोरिया (सुजाक)
  • Night Emission – नाईट इमिशन – स्वप्न दोष
  • Spermatorrhoea – वीर्य प्रमेह
  • Premature Ejaculation – शीघ्र पतन
  • Excess and Incomplete Sex Desire – (अधिक और अपूर्ण कामइच्‍छा)
  • Masturbation – मस्ट वेशन – हस्तमैथून
  • Hydrocele – हाइड्रोसील
  • Orchitis – अण्डकोसो की शोथ
  • Urethritis – मुत्र प्रणाली प्रदाह
  • Pain in Testicles – वृण्णों में दर्द
  • Impotency – नपुन्सकता
  • Syphilis – (सिफलिस) उपदंश

PM Modi Yojana List

स्त्री रोग तथा परिवार नियोजन से संबन्धित

  • Pruritis Vulvae – योनि की खुजली
  • अनार्तव (Amenorrhoea) – मासिक धर्म बन्द हो जाना
  • कष्टार्तव (Dysmenorrhoa) – मासिक धर्म कष्ट से आना
  • अत्यार्तव (Menorrhagia) – मासिक धर्म बहुत अधिक आना
  • अतिकालार्तव (Metrorrhagia) – रक्त प्रदत
  • योनिशोथ (Vaginitis, Vulvitis) – योनि शोथ
  • Vaginismus – योनि की ऐठन/ योनि संकोच
  • श्वेत प्रदर (Leucorrhoea)
  • Metrits – गर्भाशय पेशी शोथ
  • Wound in Vagina योनि के घाव
  • Vomiting of Pregnancy – गर्भवती की कै
  • Bleeding in Pregnancy – गर्भवती का रक्तस्त्राव
  • Weakness in Pregnancy – गर्भवती की शारीरिक कमजोरी
  • Pregnancy Diagnosis – गर्भ परीक्षा
  • Fake Pregnancy – झूठा गर्भ
  • परिवार नियोजन, बर्थ कण्ट्रोल
  • स्त्रीयों में कामवासना की अधिकता
  • स्त्रीयों में कामवासना ना होना
  • गर्भवती की कब्ज
  • बच्चा जनने के बाद का दर्द
  • Pain in Uterus – गर्भाशय में दर्द
  • Breast Engorgement [Galactorrhoea ] – स्तनों में दूध की वृद्धि
  • Decrease in Milk, Secretion or Suppression of Lactation – स्तनों में दूध की कमी
  • Retention or Freezing of Milk – दूध रूक या जम जाना
  • Milk of Fever – दूध का ज्वर
  • Enlargement of the Breast – स्तनों का बड़ा हो जाना
  • स्तनों का ढीला हो जाना
  • झांई (Freckles)
  • बाल उग जाना

अन्य रोग की जानकारी

  • Shock – शाक (सदमा)
  • Burns – जलना
  • Hypothermia – शरीर का तापमान कम हो जाना
  • Heat Stroke – लू लगना
  • Frost Bite – हिमदाह
  • Drowning – पानी में डूबना
  • Electric Current – बिजली की झटका
  • Canabis Indica Poisoning – मांग विषाक्तता
  • Dhatura Poisoning – धतूरा विषाक्तता
  • Cocaine Poisoning – कोकीन विषाक्तता
  • Opium Poisoning – अफीम विषाक्तता
  • Barbiturate Poisoning – बार बिचूरेट विषाक्तता
  • Arsenic Poisoning – संखिया विषाक्तता
  • Cynide Poisoning – सायनाइड विषाक्तता
  • Copper Sulphate Poisoning – नीला थोथा विषाक्तता
  • Alcohol Introxication – मघपान विषाक्तता
  • Bee/Basp Stings – मधुमक्खी/दतैया/बर्र का काटना
  • Scorpion’s Venom – बिच्छु का विष
  • Acute Vomiting – तेज उल्टियां
  • Dehydration – पानी की कमी
  • Haematuria – मूत्र में खून आना
  • Syncope – मूर्छा/बेहोशी
  • Haemorrhage – रक्तस्त्राव
  • Anaemia – रक्त की कमी
  • Filaria – हाथी पॉव
  • Dengu Fever – अस्थिमंजक ज्वर
  • Anal Fissure – गुर्दा का फट जाना
  • Obesity – मोटापा
  • Bronchial Asthma – श्वास रोग दमा
  • Bronchitis – श्वास नली की सुजन
  • Rabies [Hydrophobia] – पागल कुत्ते का काटना
  • Whooping Cough – काली खाँसी
  • Cholera – हैजा
  • Paraiysis – लकवा
  • Lumbago Pain – कमर दर्द
  • Depression – हताश हो जाना
  • Tuberculosis – टी. बी.
  • Vitamin A & D की कमी से होने वाला रोग – रतौंधी/ रात को दिखाई ना देना।
  • Vitamin B1 की कमी से होने वाला रोग – नाड़ी शूल
  • Vitamin B2 की कमी से होने वाला रोग – शरीर की पीड़ा, दुबलापन, नजला एंव थकावट
  • Vitamin B1 & B12 कमी से होने वाला रोग – स्नायुशूल, सम्पूर्ण शरीर में दर्द, नर्वस सिस्टम की कमजोरी तथा नर्वससिस्टम के रोग।
  • Vitamin ‘C’ की कमी से होने वाला रोग – नजला, जुकाम, हरारत, रोग क्षमता की कमी, स्कर्वी रोग, रक्तस्कन्दन की कमी।
  • Vitamin E की कमी से होने वाला रोग – नपुन्सकता, बाँझपन, रक्त संचार की विकृति
  • Vitamin ‘B’ Complex की कमी से होने वाला रोग – भुख ना लगना भोजन करने की इच्छा ना होना भोजन का ना पचना कब्ज मुख में छाले।
  • Burning in Hands & Feel – हाँथ पैर के तलवों में जलन

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (PMVVY)

Ayushman Bharat Yojana से कौन जुड़ सकता है

Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana के तहत  भारत के करीब 10 करोडं गरीब परिवारों को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान किया जाता है।जिसमें से लगभग 8 करोड़ परिवारों ग्रामीण क्षेत्र से है और शेष 2 करोड़ शहरी क्षेत्र से है। तो आईये जानते है कि नियम एवं शर्ते

ग्रमीण क्षेत्र के लिए

  • लाभार्थी अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति का होना अनिवार्य है
  • परिवार में 16 से 59 वर्ष आयु का कोई पुरुष न हो
  • 16 वर्ष और 59 वर्ष की आयु के बीच कोई भी व्यक्ति नहीं है
  • ऐसा व्यक्ति जो शारीरिक तौर पर विकलांग है और उसकी देखभाल करने वाला कोई और व्यक्ति नही है।
  • ऐसा परिवार जिसके पास अपने खेत या जमीन नही है और मजदूरी करके अपना पालन पोषण करता है।
  • ऐसे परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे है और एक कमरे वाले मकान में रहतेहै
  • मैला ढोने वाले अति गरीब परिवार

शहरी क्षेत्र के लिए

शहरी क्षेत्र के किन परिवार को इस योजना का लाभ मिलेगा

  • वाशरमैन / चौकीदार
  • कूड़ा लेने वाले
  • मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन, और मरम्मत कार्यकर्ता
  • घरेलू मदद
  • स्वच्छता कार्यकर्ता, माली, और सफाई कर्मचारी
  • घर में काम करने वाले कारीगर और हस्तकला कार्यकर्ता
  • दर्जी
  • मोची, फेरीवाले, और लोग सड़कों या फुटपाथ पर काम करके सेवाएं प्रदान करते हैं
  • प्लंबर, राजमिस्त्री, निर्माण श्रमिक, बंदरगाह, वेल्डर, चित्रकार और सुरक्षा गार्ड
  • ड्राइवर, कंडक्टर, हेल्पर्स, गाड़ी, या रिक्शा चालक जैसे कर्मचारी
  • एक छोटे संगठन के चपरासी, डिलीवरी मैन, दुकानदार और वेटर

Ayushman Bharat Yojana Golden Card कहां  और कैसे बनेगा

आईये हम बात करते है कि Ayushman Bharat Golden Card कहां ,कैसे और परिवार के किन किन सदस्यों का बनेगा। Ayushman Bharat Yojana का कार्ड सामाजिक,आर्थिक एवं जातीय जनगणना के अनुसार बनाया जा रहा है।

PMJAY Helpline Number

यदि आपको Ayushman Bharat Yojana से जुड़ने में या किसी भी प्रकार की कोई समस्या हो रही है आपको दिये गये रजिस्टर्ड Toll-Free Call Center Number – 14555/1800111565 या Contact no: 011-23468800 पर फोन कर सकते है अथवा Email: iec.cons2@nha.gov.in पर ईमेल कर सकते है।

Ayushman Bharat Yojana Official WebsiteClick Here

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.